आर्थिक आधार पर पिछड़े वर्ग (ईडब्ल्यूएस) को 10 प्रतिशत शिक्षण संस्थानों में आरक्षण

नए आरक्षण के लिए जेईई-मेन के विद्यार्थी 11 से 15 मार्च कर सकेंगे आवेदन

देश की सबसे बड़ी प्रवेश परीक्षा जेईई-मेन जो कि इस वर्ष साल में दो बार होने जा रही है, जनवरी जेईई-मेन के उपरान्त अब विद्यार्थी बड़ी संख्या में जेईई-मेन अप्रेल के लिए आवेदन कर रहे हैं। आर्थिक आधार पर पिछड़े वर्ग के लिए पहली बार 10 प्रतिशत आरक्षण शिक्षण संस्थानों में देने की घोषणा की जा चुकी है। यह आरक्षण उन विद्यार्थियों के लिए लागू होगा जो अभी किसी भी आरक्षण नीति के अंतर्गत नहीं आते हैं अर्थात ऐसे विद्यार्थी जिनको एससी, एसटी एवं पिछड़े वर्ग का आरक्षण प्राप्त नहीं है। साथ ही यह आरक्षण उन विद्यार्थियों के लिए लागू होगा, जिनके परिवार की वार्षिक आय सभी स्रोतों को मिलाकर आठ लाख से कम है एवं जिनके पास 5 एकड़ या इससे अधिक एग्रीकल्चर भूमि, एक हजार वर्गफीट क्षेत्रफल का आवासी मकान, 100 वर्ग यार्ड का स्थानीय प्रशासन द्वारा एप्रुव्ड आवासीय बस्ती में भूखण्ड तथा 200 वर्गयार्ड का सामान्य क्षेत्र में भूखण्ड नहीं होना चाहिए।

इस आरक्षण से संबंधित जेईई-मेन वेबसाइड पर भी पब्लिक नोटिस जारी कर दिया गया है। मानव संसाधन विकास मंत्रालय के जारी किए गए आदेश के अनुसार शिक्षण संस्थानों को यह रिजर्वेशन देने के लिए आवश्यकतानुसार अपनी सीटें भी बढ़ानी होंगी और पुरानी सीटों की संख्या यथावत रहेंगी। इससे किसी भी विद्यार्थी का नुकसान नहीं होगा।

ईडब्ल्यूएस आरक्षण से आठ लाख से कम पारिवारिक वार्षिक आय वाले अनारक्षित विद्यार्थियों को लाभ मिलेगा। जेईई-मेन द्वारा इस संबंध में जारी किए गए पब्लिक नोटिस के अनुसार इस आरक्षण का लाभ उठाने के लिए 11 से 15 मार्च के मध्य ऑनलाइन आवेदन में इस ईडब्ल्यूएस कैटेगिरी के विद्यार्थियों को विशेष उल्लेख करना होगा क्योंकि जनवरी व अप्रेल आवेदन के दौरान ईडब्ल्यूएस कैटेगिरी को दर्शाने के लिए कोई विकल्प उपलब्ध नहीं था। ईडब्ल्यूएस कैटेगिरी से संबंधित सेटेफिकेट का प्रारूप भी जारी कर दिया गया है। हालांकि विद्यार्थियों को इस सर्टिफिकेट को जेईई-मेन आवेदन के दौरान अपलोड करने की आवश्यकता नहीं होगी। परन्तु जेईई-एडवांस्ड आवेदन के दौरान इस सर्टिफिकेट को अपलोड करना होगा। अतः विद्यार्थी कैटेगिरी से संबंधित दस्तावेज बनाकर रखें। अभी तक कुल 2 लाख 10 हजार से ज्यादा विद्यार्थी अप्रेल जेईई-मेन के लिए नए आवेदन कर चुके हैं, जिन्होंने जनवरी जेईई मेन की परीक्षा ही नहीं दी थी। आवेदन की अंतिम तिथि 7 मार्च तक रखी गई है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *