एनटीए का सर्वर अटका, स्टूडेंट्स हुए परेशान (जेईई-मेन जनवरी-2020)

अंतिम दिन सैकड़ों विद्यार्थियों ने दर्ज करवाई एनटीए आंसर की पर आपत्तियां
जल्द जारी हो सकता है परिणाम

देश की सबसे बड़ी इंजीनियरिंग प्रवेश परीक्षा जेईई-मेन जनवरी जिसमें इस वर्ष 9 लाख 34 हजार 828 विद्यार्थी शामिल हुए, एनटीए द्वारा करवाई गई इस ऑनलाइन परीक्षा की पारदर्शिता दिखाते हुए समस्त 8 शिफ्टों के प्रश्नपत्र विद्यार्थियों के रिकॉर्डेड रेस्पोंस एवं आंसर की 13 जनवरी को जारी कर दिए गए। साथ ही विद्यार्थियों को जारी की गई आंसर की को चैलेंज करने का अवसर भी दिया गया। विद्यार्थियों को आंसर की चैलेंज करने के लिए मात्र दो दिन का समय दिया गया, अंतिम दिन सैकड़ों की संख्या में विद्यार्थियों ने एनटीए द्वारा जारी की गई आंसर की के उत्तरों पर आपत्तियां दर्ज करवाई। वहीं आपत्ति दर्ज करवाने के अंतिम दिन शाम 6 बजे से ही चैलेंज फीस जमा करवाने के दौरान सर्वर अटकना शुरू हो गया। करीब दो घंटे से अधिक समय तक सर्वर अटका रहा, अंतिम तिथि होने के कारण विद्यार्थी परेशान हो गए, क्योंकि बुधवार रात 11.50 बजे तक का ही समय दिया गया। फीस जमा नहीं होने की स्थिति आपत्ति आवेदन प्रक्रिया पूरी नहीं हो पा रही थी, अतः विद्यार्थियों ने तिथि बढ़ाने की भी मांग की।
गत वर्ष भी आंसर की चैलेंज के लिए दी गई नीयत तिथि के 3 या 4 दिन पश्चात ही जेईई-मेन जनवरी का एनटीए स्कोर 7 डेसीमल पर्सेन्टाइल के रूप में जारी कर दिया गया था। अतः इस वर्ष भी आंसर की चैलेंज करने का समय पूरा होने के बाद अब परिणाम जल्द ही जारी होने की संभावनाएं हैं, जबकि एनटीए द्वारा जनवरी जेईई मेन का परिणाम 31 जनवरी को आना प्रस्तावित है। विद्यार्थियों का एनटीए स्कोर उनकी स्वयं की परीक्षा शिफ्ट में बैठने वाले कुल विद्यार्थियों की संख्या के अनुरुप ही निकाला जाएगा। जारी किए गए परिणाम में विद्यार्थियों का कुल एनटीए स्कोर के साथ-साथ प्रत्येक विषय फिजिक्स, कैमेस्ट्री, मैथ्स का अलग-अलग एनटीए स्कोर भी 7 डेसीमल पर्सेन्टाइल तक जारी किया जाएगा। परिणाम के उपरान्त विद्यार्थियों के पास अप्रेल जेईई-मेन परीक्षा देने का विकल्प उपलब्ध रहेगा, जिसका रजिस्ट्रेशन 7 फरवरी से 7 मार्च के मध्य करवाया जाएगा

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *