जेईई-एडवांस्ड- क्वालीफाई स्टूडेंट्स की क्या रही कटऑफ,

कुल 38705 स्टूडेंट्स काउंसलिंग के लिए योग्य घोषित

इस वर्ष कुल 174432 स्टूडेंट्स ने जेईई-एडवांस्ड परीक्षा के लिए रजिस्ट्रेशन करवाया। इनमें से कुल 161319 स्टूडेंट्स ने एडवांस्ड परीक्षा में भाग लिया। इन विद्यार्थियों में से कुल 38705 स्टूडेंट्स को काउंसलिंग के लिए योग्य घोषित किया। जो कि गत वर्ष के मुकाबले 6717 अधिक है। गत वर्ष कुल 31988 विद्यार्थियों को काउंसलिंग के लिए योग्य घोषित किया गया था।

इस वर्ष काउंसलिंग के लिए योग्य घोषित स्टूडेंट्स में से 33349 छात्र एवं 5356 छात्राएं रहीं। काउंसलिंग के लिए क्वालीफाई कुल 38705 स्टूडेंट्स में 15566 सामान्य श्रेणी के 3636 जनरल ईडब्ल्यूएस के, 7651 ओबीसी के 8758 एससी के एवं 3094 एसटी कैटेगिरी के स्टूडेंट्स रहे। कुल क्वालिफाइड स्टूडेंट्स में 31611 विद्यार्थी नॉन प्रिपेटरी एवं 7094 स्टूडेंट्स प्रिपेटरी रैंक लिस्ट में क्वालीफाई हुए। यह प्रिपेटरी रैंक लिस्ट में केवल एससी-एसटी एवं शारीरिक विकलांग स्टूडेंट्स को ही क्वालीफाई किया जाता है। विद्यार्थियों को जेईई-एडवांस्ड काउंसलिंग की योग्यता के लिए औसतन कटऑफ के साथ-साथ विषयवार कटऑफ को भी क्वालीफाई करना आवश्यक होता है। इस वर्ष जेईई-एडवांस्ड परीक्षा कुल 372 अंक की हुई, जिसमें दोनों पेपर 186-186 अंक के थे। जिनमें फिजिक्स, मैथेमेटिक्स एवं कैमेस्ट्री कुल 124-124 अंकों की रही।
ये रही काउंसलिंग कॉल की कटऑफ

काउंसलिंग के लिए क्वालीफाई किए गए स्टूडेंट्स में सामान्य श्रेणी की औसतन कटऑफ 25 प्रतिशत (93 अंक), ओबीसी एवं ईडब्ल्यूएस कैटेगिरी के लिए 22.5 प्रतिशत (83.7 अंक), एससी, एसटी एवं दिव्यांग कैटेगिरी की 12.5 प्रतिशत (46.5 अंक) रही। इसके साथ ही विषयवार कटऑफ सामान्य श्रेणी की 10 प्रतिशत (12.4अंक), ओबीसी एवं ईडब्ल्यूएस कैटेगिरी 9 प्रतिशत (11.16 अंक), एससी, एसटी व दिव्यांग कैटेगिरी श्रेणी के लिए 5 प्रतिशत (6.2 अंक) रही।
एडवांस्ड के रिजल्ट के उपरान्त आईआईटी-एनआईटी में प्रवेश के लिए जोसा द्वारा ज्वाइंट काउंसलिंग करवाई जाएगी, यह काउंसलिंग प्रक्रिया 16 जून से प्रारंभ हो सकती है, अतः विद्यार्थी जोसा काउंसलिंग के लिए वेबसाइट पर विजिट करते रहें।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *