जेईई-एडवांस्ड-5 जून तक का समय

ओबीसी एवं ईडब्ल्यूएस प्रमाण पत्र अपलोड करने का विकल्प शुरू

 

आईआईटी रूडकी द्वारा 27 मई को देश के 155 परीक्षा शहरों में होने वाली जेईई-एडवांस्ड परीक्षा जिसके प्रवेश पत्र 20 मई को जारी कर दिए गए हैं, प्रवेश पत्र जारी होने के साथ ही विद्यार्थियों को आवेदन के दौरान अपलोड किए गए प्रमाण पत्रों की पुष्टि कर त्रुटि पाए जाने अपने पुनः सही दस्तावेजों को अपलोड करने का विकल्प दे दिया गया है। इसके लिए विद्यार्थी को जेईई-एडवांस्ड वेबसाइट पर उपलब्ध कैंडिडेट पोर्टल पर जाकर अपना जेईई-एडवांस्ड रजिस्ट्रेशन नम्बर, जन्म दिनांक, रजिस्टर्ड मोबाइल नम्बर एवं ई-मेल आईडी डालकर लॉगिन करना होगा। इसके उपरान्त विद्यार्थी अपने डेश बोर्ड में दिए गए अपलोड सर्टीफिकेट विकल्प पर जाकर अपने दस्तावेजों को रिअपलोड कर सकते हैं।

ओबीसी एवं ईडब्ल्यूएस कैटेगिरी के वे विद्यार्थी जिन्होंने आवेदन के दौरान उपयुक्त प्रमाण पत्र ना होने पर अण्डरटेकिंग द्वारा 5 जून तक का समय लिया है, ऐसे विद्यार्थी अब दिए गए विकल्पों पर जाकर अपना कैटेगिरी संबंधित दस्तावेज पुनः अपलोड कर सकते हैं और अपलोड कर उनकी पुष्टि भी की जा सकती है।

जेईई मेन द्वारा 20 मई को जारी किए गए  नोटिस के अनुसार विद्यार्थियों को निर्देशित किया गया है कि जेईई-परिणाम घोषित होने के उपरान्त अब विद्यार्थियों की कैटेगिरी में किसी तरह का बदलाव नहीं हो सकेगा। जोसा काउंसलिंग के दौरान विद्यार्थियों को कॉलेज सीट का आवंटन, उनकी आल इंडिया रैंक के साथ-साथ कैटेगिरी रैंक पर किया जाता है। अर्थात सर्वप्रथम विद्यार्थी को कॉलेज आवंटन के लिए आल इंडिया रैंक देखी जाती है और उस पर आवंटन नहीं होने पर विद्यार्थी की कैटेगिरी रैंक के अनुसार कॉलेज आवंटित किया जाता है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *