जेईई-मेन की फाइनल आंसर की जारी, श्रेष्ठ 2.24 लाख स्टूडेंट्स होंगे एडवांस्ड में शामिल

जेईई-मेन ने सभी शिफ्टों के कुल 11 प्रश्न ड्राप किए

देश की सबसे बड़ी इंजीनियरिंग प्रवेश परीक्षा जेईई-मेन जो कि इस वर्ष प्रथम बार पूर्णतः कम्प्यूटर बेस्ड 9 से 12 जनवरी को संपन्न हुई, जिसमें 8 लाख 74 हजार 469 विद्यार्थी शामिल हुए, जिनका परिणाम 19 जनवरी को एनटीए स्कोर पर्सेन्टाइल के रूप में घोषित किया जा चुका है, विद्यार्थियों के हित में पारदर्शिता रखते हुए एनटीए द्वारा सभी शिफ्टों की फाइनल आंसर-की बुधवार को जारी कर दी गई है। जिसके आधार पर ही जेईई-मेन परिणाम घोषित किया गया। जारी की गई आंसर की में विद्यार्थियों द्वारा क्लेम किए गए प्रश्नों में से कुछ प्रश्नों पर आपत्तियां स्वीकार की गई तथा कुछ आपत्तियों को खारिज कर दी गई। साथ ही कुल आठ शिफ्टों में टेक्नीकल एरर के कारण 11 प्रश्न ऐसे रहे जो ड्रॉप कर दिए गए। इन प्रश्नों पर विद्यार्थियों को पूरे अंक दे दिए गए। ड्रॉप किए गए प्रश्नों में 9 जनवरी की सुबह की शिफ्ट में हुई परीक्षा का एक, 10 जनवरी की सुबह की शिफ्ट के 3 तथा शाम का एक, 11 जनवरी सुबह की शिफ्ट का एक तथा शाम की शिफ्ट के दो, 12 जनवरी सुबह की शिफ्ट का एक तथा शाम की शिफ्ट के दो प्रश्न शामिल हैं।
दूसरी और जेईई-एडवांस्ड परीक्षा जो कि इस वर्ष गत वर्ष की भांति ही पूर्णतः कम्प्यूटर बेस्ड 19 मई को दो पारियों में संपन्न होने जा रही है, परीक्षा से संबंधित पात्रताओं को घोषित कर दिया गया है, जिसके अनुसार विद्यार्थियों को जेईई-मेन के आधार पर श्रेष्ठ 2 लाख 24 हजार विद्यार्थियों में आना होगा। सामान्य व ओबीसी के लिए 12वीं बोर्ड में 75 प्रतिशत व एससी-एसटी के लिए 65 प्रतिशत तथा अपने-अपने बोर्ड की कैटेगिरी अनुसार टॉप 20 पर्सेन्टाइल में शामिल होना होगा। जेईई-एडवांस्ड देने की सामान्य व ओबीसी की आयुसीमा अधिकतम 25 साल व एससी-एसटी की अधिकतम 30 साल रखी गई है।
प्रथम बार वर्ष में दो बार हो रही जेईई-मेन परीक्षा के स्कोर के आधार पर निकाली गई अधिकतम पर्सेन्टाइल पर विद्यार्थियों की जेईई-एडवांस्ड देने की कटऑफ जारी की जाएगी। साथ ही विदेशी नागरिकता वाले विद्यार्थियों को बिना जेईई-मेन दिए ही सीधे एडवांस्ड देने के लिए पात्र घोषित किया गया है। जेईई-एडवांस्ड रजिस्ट्रेशन के लिए इस वर्ष भारतीय नागरिक के लिए परीक्षा शुल्क  महिला परीक्षार्थियों के लिए 1300 रूपए, एससी-एसटी के लिए 1300 तथा अन्य सभी विद्यार्थियों के लिए 2600 रूपए होगी। वहीं विदेशी मूल के सार्क देशों के विद्यार्थियों के लिए 75 यूएस डॉलर तथा नॉन सार्क के लिए 150 यूएस डॉलर रखी गई है। परीक्षा फीस में जीएसटी अलग से लिया जाएगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *