जेईई मेन पेपर 2 आर्किटेक्चर की परीक्षा योग्यता में बदलाव

अब तक कुल 7 लाख 15 हजार से ज्यादा विद्यार्थियों ने किए आवेदन

देश की सबसे बड़ी इंजीनियरिंग प्रवेश परीक्षा जेईई मेन, जिसमें अब तक लगभग 7 लाख 15 हजार से ज्यादा विद्यार्थियों ने आॅनलाइन आवेदन किया है। आवेदन की अंतिम तिथि 30 सितंबर तक रखी गई है। इस वर्ष एनटीए की ओर से जेईई मेन परीक्षा जनवरी 2019 व अप्रैल 2019 में पूर्णतया कम्प्यूटर बेस्ड आयोजित होगी। जेईई मेन परीक्षा में पेपर 1 और पेपर 2 दो परीक्षाएं होती है। पेपर 1 बीई, बीटेक के लिए एवं पेपर 2 बीई आर्किटेक्चर (बीआर्क) के लिए होती है। विद्यार्थी अपनी रूचि अनुसार पेपर 1 और पेपर 2 दोनों के लिए आवेदन कर सकते हैं।
जेईई मेन की ओर से जारी पब्लिक नोटिस के अनुसार वे विद्यार्थी जिन्हें आर्किटेक्चर परीक्षा देनी है, उन्हें 12वीं में अनिवार्य विषयों में फिजिक्स, कैमेस्ट्री व मैथ्स विषय होने चाहिए एवं फिजिक्स, कैमेस्ट्री व मैथ्स में 50 प्रतिशत अंकों के साथ-साथ 12वीं के कुल विषयों में भी औसतन 50 प्रतिशत अंक लाने होंगे। काउंसिल आॅफ आर्किटेक्चर ने अपने इस निर्णय ने एनटीए को अवगत कराया है। जिसके बाद जेईई मेन ने यह पब्लिक नोटिस जारी किया है।
बीआर्क परीक्षा तीन भागों में होती है। जिनमें गणित, एप्टीट्यूड एवं ड्राइंग शामिल है। इस वर्ष गणित एवं एप्टीट्यूड परीक्षा कम्प्यूटर बेस्ड एवं ड्राइंग परीक्षा पेपर पेन मोड में होगी। जेईई मेन पेपर 2 द्वारा बीआर्क में देश के कुल 16 काॅलेजों की 832 सीटों पर प्रवेश मिलता है। जिसमें 9 एनआईटी की 465 सीटों के साथ-साथ 7 जीएफटीआई की कुल 367 सीटें शामिल है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *