जेईई-मेन में कम पर्सेन्टाइल वाले विद्यार्थियों के लिए और भी हैं विकल्प

इंजीनियरिंग प्रवेश परीक्षाओं में हर साल 12 से 13 लाख विद्यार्थी होते हैं शामिल

देश की सबसे बड़ी एवं प्रतिष्ठित प्रवेश परीक्षाएं जेईई-एडवांस्ड जिसके माध्यम से 23 आईआईटी की 11279 सीटों एवं जेईई-मेन जिसके माध्यम से 31 एनआईटी, 23 ट्रिपलआईटी एवं 23 जीएफटीआई की लगभग 26 हजार सीटों पर प्रवेश मिलता है। अगर देखा जाए तो हर वर्ष इंजीनियरिंग प्रवेश परीक्षाओं में 12 से 13 लाख विद्यार्थी शामिल होते हैं और उनमे से कुल करीब 35 हजार विद्यार्थियों को ही आईआईटी एनआईअी, ट्रिपलआईटी एवं जीएफटीआई में प्रवेश मिल पाता है। बाकी विद्यार्थी जानकारी के अभाव में परेशान एवं हताश दिखाई देते हैं। परन्तु इन प्रमुख परीक्षाओं के अलावा भी इंजीनियरिंग के लिए कई और संस्थानों के विकल्प खुले हुए हैं। जहां से हर साल हजारों विद्यार्थी डिग्री हासिल कर अपना भविष्य बना रहे हैं। जेईई-मेन परीक्षा इस बार से वर्ष में दो बार जनवरी व अप्रेल में संपन्न करवाई जा रही है। अप्रेल की परीक्षा 7 से 20 अप्रेल के मध्य संपन्न होगी, जिसकी आवेदन प्रक्रिया जारी है, जिसमें लाखों की संख्या में विद्यार्थी पंजीकरण करवा रहे हैं। जनवरी जेईई-मेन का परिणाम घोषित होने के बाद कम पर्सेन्टाइल वाले विद्यार्थियों के लिए भी बहुत से इंजीनियरिंग संस्थानों के विकल्प अभी भी उपलब्ध है।

जिन विद्यार्थियों की जेईई-मेन में अपनी अपेक्षानुसार अच्छी पर्सेन्टाइल नहीं बनी है, उन्हें निराश होने की कोई आवश्यकता नहीं है, क्योंकि इन विद्यार्थियों के पास अप्रेल परीक्षा में पुनः बैठने का विकल्प तो उपलब्ध है ही और साथ-साथ आईआईटी एनआईटी के अलावा भी कई मुख्य इंजीनियरिंग संस्थान, बिट्स पिलानी, वीआईटी, मनीपाल, आईपीयू, अमृता, एसआरएम, क्यूसेट, एएमयू, कॉमेडके, यूपीईएस, सीएमआई, आईएसआई, एनमेट, कलिंगा, ट्रिपलआईटी हैदराबाद, एलपीयू, मानव रचना आदि इंजीनियरिंग संस्थानों के विकल्प भी उपलब्ध है, जहां से हर वर्ष हजारों की संख्या में अपने भविष्य को उज्जवल बना रहे हैं। इनमें से बहुत से इंजीनियरिंग संस्थानों की आवेदन प्रक्रिया प्रारंभ भी हो चुकी है।

साथ ही विद्यार्थी जेईई-मेन स्कोर एवं रैंक के आधार पर विद्यार्थी कई और प्रमुख इंजीनियरिंग संस्थानों के लिए आवेदन कर सकते हैं, जिसमें ट्रिपलआईटी हैदराबाद, डीटीयू, एनएसआईटी, ट्रिपलआईटी दिल्ली, थापर, निरमा, धीरूभाई अंबानी, जेपीनोएडा, पीडीपीयू, पैक चंडीगढ़, ट्रिपलआईटी बैंगलुरू जैसे प्रमुख संस्थान शामिल हैं, जिनके लिए विद्यार्थियों को जोसा काउंसलिंग के अलावा समय अनुसार अलग से आवेदन करना पड़ता है।

विद्यार्थी इंजीनियरिंग प्रवेश परीक्षाओं की तैयारी के साथ-साथ डिजाइन, रिसर्च, सांख्यिकी, गणित, बेसिक साइंस, फैशन टेक्नोलॉजी, रेलवे, आर्किटेक्चर, एनडीए, मास कम्यूनिकेशन आदि क्षेत्रों में भी विकल्प लेकर भविष्य बना सकते हैं।

                                      (एग्जाम अलर्ट)

जेईई-मेन अप्रेल

परीक्षा तिथि – 7 से 20 अप्रेल

अंतिम तिथि – 7 मार्च

—-

बिट्स पिलानी

परीक्षा तिथि – 16 से 28 मई

अंतिम तिथि – 20 मार्च

वीआईटी वैल्लुर

परीक्षा तिथि – 10 से 21 अप्रेल

अंतिम तिथि – 28 फरवरी

—-

एसआरएम चैन्नई

परीक्षा तिथि – 15 से 25 अप्रेल

अंतिम तिथि – 31 मार्च

मनीपाल मैंगलुरू

अंतिम तिथि – 15 मार्च

—-

कॉमेडके कर्नाटका

परीक्षा तिथि – 12 मई

अंतिम तिथि – 19 अप्रेल

यूपीईएस देहरादून

परीक्षा तिथि – 13 से 19 मई

अंतिम तिथि – 08 मई

अमृता कोयम्बतूर

परीक्षा तिथि – ऑफलाइन – 27 अप्रेल, ऑनलाइन – 22 से 26 अप्रेल

अंतिम तिथि – 5 अप्रेल

—-

कलिंगा भूवनेश्वर

परीक्षा तिथि – 15 से 24 अप्रेल

अंतिम तिथि – 31 मार्च

—-

क्यूसेट केरला

परीक्षा तिथि – 6 व 7 अप्रेल

अंतिम तिथि – 28 फरवरी

—-

नरसीमुंजी मुम्बई

परीक्षा तिथि – 11 व 12 मई

अंतिम तिथि – 29 अप्रेल

एएमयू अलीगढ़

परीक्षा तिथि – 28 अप्रेल

अंतिम तिथि – 4 मार्च

एनआईएसईआर (रिसर्च)

परीक्षा तिथि – 01 जून

अंतिम तिथि – 11 मार्च

एलपीयू पंजाब

परीक्षा तिथि – 5 से 30 अप्रेल

अंतिम तिथि – 31 मार्च

मानवरचना फरीदाबाद

परीक्षा तिथि – 20 व 21 अप्रेल

अंतिम तिथि – 17 अप्रेल

आईएसआई कोलकाता (बी.मैथ्स)

परीक्षा तिथि – 12 मई

अंतिम तिथि – 12 मार्च

राज्य स्तरीय प्रवेश परीक्षाएं

यूपीटीयू

परीक्षा तिथि – 21 अप्रेल

अंतिम तिथि – 15 मार्च

—-

महाराष्ट्रा सीईटी

परीक्षा तिथि – 2 से 13 मई

अंतिम तिथि – 23 मार्च

—-

जेईई मेन एवं एडवांस्ड पर आधारित संस्थान

आईआईएससी बैंगलुरू (रिसर्च)

अंतिम तिथि – 30 अप्रेल

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *