जेईई-मेन विद्यार्थी इन प्रमुख इंजीनियरिंग संस्थानों का आवेदन करना भी ना भूलें

इंजीनियरिंग के लिए और भी हैं विकल्प

हाल ही में हुई देश की सबसे बड़ी इंजीनियरिंग प्रवेश परीक्षा जेईई-मेन जनवरी 9 लाख 38 हजार से अधिक विद्यार्थी शामिल हुए, साथ ही अब परिणाम के इंतजार में हैं। परीक्षा में शामिल हुए लाखों की संख्या में ऐसे विद्यार्थी भी हैं, जो अपने जेईई-मेन जनवरी परीक्षा में प्रदर्शन से पूर्णतः संतुष्ट नहीं है। ऐसे में ये विद्यार्थी जेईई-मेन अप्रेल परीक्षा के आवेदन के साथ-साथ समकक्ष अच्छे इंजीनियरिंग संस्थानों के प्रवेश के लिए भी आवेदन कर सकते हैं।

हर वर्ष इंजीनियरिंग प्रवेश परीक्षा के लिए 12 से 13 लाख विद्यार्थी आवेदन करते हैं, परन्तु वास्तविकता में इन लाखों विद्यार्थियों में से 23 आईआईटी, 31 एनआईटी, 25 ट्रिपलआईटी एवं 28 जीएफटीआई की कुल 43277 सीटों पर ही विद्यार्थी प्रवेश ले पाते हे। ऐसे में विद्यार्थियों को चाहिए कि जेईई-मेन एवं एडवांस्ड के साथ-साथ समकक्ष अच्छे इंजीनियरिंग संस्थानों में प्रवेश के लिए भी आवेदन करें। देश में आईआईटी, एनआईटी के अलावा कुछ मुख्य इंजीनियरिंग संस्थान, जैसे बिट्सी पिलानी, ट्रिपलआईटी हैदराबाद, वीआईटी वैल्लुर, मनीपाल मैंगलोर, अमृता चैन्नई, एसआरएम चैन्नई,  जामिया दिल्ली, क्यूसेट केरला, एएमयू अलीगढ़, कॉमेडके कर्नाटका, यूपीईएस दूहरादून, बनस्थली जयपुर, आईएसआई कोलकाता, सीएमआई चैन्नई, एनमैट मुम्बई, एलपीयू पंजाब आदि इंजीनियरिंग संस्थानों के लिए भी आवेदन कर सकते हैं। इनमें से बहुत से संस्थानें की आवेदन प्रक्रिया चल रही है। इसके अलावा विद्यार्थी अपने-अपने स्टेट के इंजीनियरिंग कॉलेजों के लिए भी अलग से आवेदन कर सकते है। जेईई-मेन के स्कोर एवं आल इंडिया रैंक के आधार पर एनआईटी, ट्रिपलआईटी के अतिरिक्त भी बहुत से इंजीनियरिंग संस्थानों में अलग से आवेदन अप्रेल से मई के मध्य से किए जा सकते हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *