पेपर एनालिसिस – जेईई मेन 2019 (10-जनवरी)

बृजेश माहेश्वरी,
निदेशक, एलन कॅरियर इंस्टीट्यूट
एडवांस्ड के पुराने प्रश्न मोडिफाइड कर पूछे गए
बीई-बीटेक के लिए आयोजित की जा रही जेईई मेन सीबीटी में दूसरे दिन गुरुवार को दूसरे दिन जेईई मेन्स का पेपर स्तरीय रहा। एलन कॅरियर इंस्टीट्यूट के निदेशक बृजेश माहेश्वरी ने बताया कि जेईई-मेन के पेपर में पूछे जा रहे प्रश्नों के अध्ययन के आधार पर एक बात कही जा सकती है कि जेईई एडवांस्ड के पुराने पेपर्स के कुछ प्रश्नों को मोडिफाइड कर इस परीक्षा में पूछा जा रहा है। सुबह की शिफ्ट में तीनों विषय फिजिक्स, कैमेस्ट्री व मैथेमेटिक्स के पेपर ईजी रहे लेकिन, सबसे ज्यादा सरल पेपर फिजिक्स का रहा। जबकि मैथेमेटिक्स का पेपर लैंदी था, जिसमें प्रश्नों को हल करने में समय अधिक लगा। इसी प्रकार शाम की शिफ्ट में मैथेमेटिक्स का पेपर सबसे ईजी रहा जबकि कैमेस्ट्री कठिन रही। विद्यार्थियों को पेपर हल करने में ज्यादा परेशानी नहीं हुई। क्योंकि तीनों पेपर में पूछे गए प्रश्न एलन बुकलेट में शामिल थे।
मैथेमेटिक्स
मैथेमेटिक्स का पेपर दोनों शिफ्टों में लैंदी था। सभी चैप्टर्स के अलावा जेईई मेन के एक्स्ट्रा सिलेबस से भी प्रश्न पूछे गए थे, जोकि सामान्यतया जेईई मेंस में शामिल नहीं किए जाते। इन प्रश्नों का स्तर आसान था। पेपर कंसेप्ट बेस्ड था लेकिन, कुछ प्रश्न कैलकुलेशन बेस्ड थे। जिन्हें हल करने में बच्चों को ज्यादा समय लगा। 11वीं कक्षा की तुलना में 12वीं कक्षा के सिलेबस से ज्यादा प्रश्न पूछे गए थे।
कैमेस्ट्री
कैमेस्ट्री का पेपर एवरेज रहा,  ऑर्गेनिक, इनऑर्गेनिक एवं फिजिकल कैमेस्ट्री के पेपर में ऑर्गेनिक व इनऑर्गेनिक कैमेस्ट्री के प्रश्न ज्यादा रहे, फिजिकल कैमेस्ट्री के कम पूछे गए। ऑर्गेनिक कैमेस्ट्री में मिक्स कंसेप्ट के प्रश्न थे। पेपर में कक्षा 11वीं एवं 12वीं कक्षाओं के सिलेबस से बराबर प्रश्न पूछे गए थे। कैमेस्ट्री इन एवरी-डे लाइफ, बॉयोमोलीक्यूल व एनवायरमेंटल टॉपिक्स से भी प्रश्न आए।
फिजिक्स
दोनों शिफ्टों में फिजिक्स का पेपर स्तरीय रहा। कुछ प्रश्नों में कैलकुलेटिव पार्ट ज्यादा होने से विद्यार्थियों को समय ज्यादा लगा। फिजिक्स के पेपर में एक प्रश्न ऐसा भी था, जिसका उत्तर विकल्पों में मौजूद नहीं था।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *