पेपर एनालिसिस – जेईई मेन 2019 (12 जनवरी)

12वीं कक्षा के सिलेबस का वेटेज ज्यादा रहा

देश के आईआईटी, एनआईटी, ट्रिपलआईटी सहित अन्य इंजीनियरिंग काॅलेजों में प्रवेश के लिए जेईई मेन परीक्षा पहली बार सीबीटी मोड में आयोजित की जा रही है। शनिवार को चैथे यानी अंतिम दिन की परीक्षा में सभी विषयों में पूछे गए प्रश्नों में 12वीं कक्षा के सिलेबस का वेटेज ज्यादा रहा। एलन कॅरियर इंस्टीट्यूट के निदेशक बृजेश माहेश्वरी ने बताया कि दोनों पारियों में पेपर ओवर आल ईजी रहा। मैथ का पेपर ईजी लेकिन लेन्दी ज्यादा रहा। इस वजह से विद्यार्थियों को कैलकुलेशन में ज्यादा वक्त लगा। तीनों विषयों में जेईई मेन के ऐसे टाॅपिक जो एडवांस्ड में नहीं है, उनसे संबंधित प्रश्न भी दोनों पारियों में पूछे गए।
………………………………………………
कैमेस्ट्री
कैमेस्ट्री का पेपर आसान था। इसके तीनों भागों आर्गेनिक, इनआर्गेनिक एवं फिजिकल कैमेस्ट्री से बराबर संख्या में 10-10 प्रश्न पूछे गये थे। करीब 3 से 4 प्रश्न एक्सपेरिमेंट पर आधारित थे। जिन विद्यार्थियों ने एनसीईआरटी का सिलेबस अच्छे से कवर किया था, उनके लिए पेपर काफी आसान था। करीब 65 प्रतिशत प्रश्न 12वीं कक्षा के सिलेबस से पूछे गए थे।
……………………………………………..
फिजिक्स
फिजिक्स का पेपर दोनों शिफ्टों में आसान रहा। करीब 60 प्रतिशत प्रश्न 12वीं कक्षा के सिलेबस से थे। इलेक्ट्रोस्टेट्क्सि, इलेक्ट्रोडाइनेमिक्स एवं माॅडर्न फिजिक्स के प्रश्नों की संख्या ज्यादा रही। मैकेनिक्स के करीब 7 प्रश्न पूछे गए।
………………………………………………
मैथेमेटिक्स
मैथेमेटिक्स का पेपर आसान लेकिन लेन्दी था। मल्टी स्टेप बेस्ड प्रश्नों की संख्या ज्यादा होने से विद्यार्थियों को पेपर साॅल्व करने में ज्यादा समय लगा। कैलकुलस टाॅपिक से करीब 10 प्रश्न पूछे गए थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *