Information Brochure for JEE (Advanced) 2018 launched

जेईई एडवान्स्ड का इन्फोर्मेशन बुलेटिन जारी

देश की सबसे प्रतिष्ठित इंजिनियरिंग प्रवेश परीक्षा जेईई एडवान्स्ड जिसके माध्यम से देश की 23 आईआईटी की लगभग 11 हजार सीटों पर प्रवेश मिलता है, यह परीक्षा इस वर्ष पूर्णतः आॅनलाईन 20 मई को होने जा रही है। जेईई एडवान्स्ड का इन्फोर्मेशन बुलेटिन जारी कर दिया गया है जिसके अनुसार इस वर्ष यह परीक्षा देश के 155 परीक्षा शहरों पर प्रातः 9 से 12 एवं दोपहर 2 से 5 के मध्य सम्पन्न होगी। इस वर्ष भी जेईई एडवान्स्ड का परीक्षा केन्द्र कोटा नहीं दिया गया है। राजस्थान के 7 शहरों में परीक्षा केन्द्र बनाये गये है, जिसमें अजमेर, अलवर, बीकानेर, जयपुर, जोधपुर, सीकर एवं उदयपुर शामिल है। गत वर्ष राजस्थान के 10 परीक्षा शहरों में एवं देश के 111 परीक्षा शहरों में यह परीक्षा सम्पन्न हुई थी। पिछले वर्ष की भांति इस वर्ष भी विदेशो में जेईई एडवान्स्ड परीक्षा के केन्द्र बनाये गये हैं जिनमें इथोपिया, नेपाल, सिंगापुर, बांग्लादेश, दुबई, श्रीलंका शामिल हैं। जेईई एडवान्स्ड परीक्षा से सम्बन्धित सभी पात्रतायें भी जारी कर दी गई हैं। इस वर्ष प्रथम बार आईआईटी में छात्रों व छात्राओं के अनुपात को संतुलित करने के लिए छात्राओं को 8 से 14 प्रतिशत तक अतिरिक्त सीटों पर प्रवेश दिया जायेगा।
जेईई मेन परीक्षा द्वारा चुने हुए शीर्ष 2 लाख 24 हजार विद्यार्थी जो जेईई एडवान्स्ड परीक्षा देने के लिए पात्र घोषित किये जायेंगे जिसमें सामान्य श्रेणी के 1,13,120 ओबीसी के 60,480, एससी के 33,600 एवं एसटी के 16,800 विद्यार्थी शामिल हैं। जेईई एडवान्स्ड का आॅनलाईन रजिस्ट्रेशन 2 से 7 मईे के मध्य करवाया जायेगा। जेईई एडवान्स्ड परीक्षा के लिए आवेदन शुल्क सामान्य व ओबीसी श्रेणी के छात्रों के लिए 2600 रूपये, एससी, एसटी, शारीरिक विकलांग छात्रों एवं सभी वर्गों की छात्राओं के लिए 1300  रूपये रखा गया है। प्रवेश पत्र 14 मई को जारी कर दिये जायेंगे। जेईई एडवान्स्ड का परीक्षा परिणाम 10 जून को घोषित किया जायेगा।
जारी किये गये इन्फोर्मेशन बुलेटिन में जेईई एडवान्स्ड परीक्षा को क्वालिफाई कर रेंक सूची में स्थान प्राप्त करने के लिए औसतन व विषयवार कट-आॅफ जारी कर दी गई है, जो कि सामान्य श्रेणी के लिए 35 प्रतिशत, विषयवार 10 प्रतिशत ओबीसी के लिए, औसतन 31.5 प्रतिशत, विषयवार 9 प्रतिशत एससी, एसटी एवं शारीरिक विकलांग के लिए औसतन 17.5 प्रतिशत एवं विषयवार 5 प्रतिशत रखी गई है। इस वर्ष जेईई एडवान्स्ड के आॅनलाईन आवेदन करते समय ओबीसी का प्रमाण-पत्र 1 अप्रैल 2018 के बाद मांगा गया हैं जिन विद्यार्थियों ने जोसा काउन्सलिंग के दौरान आईआईटी आवण्टन के पश्चात सीट असेप्टेंस फीस का भुगतान कर रिपोर्टिंग सेन्टर पर रिपोर्ट नहीं किया और साथ ही समय रहते सीट विड्राअल करवा ली वे इस वर्ष जेईई एडवान्स्ड परीक्षा में बैठ पायेंगे एवं जिन विद्यार्थियों ने गत वर्ष आईआईटी के रिपोर्टिंग सेन्टर पर जाकर सीट असेप्ट कर ली थी वे इस वर्ष जेईई एडवांस परीक्षा में बैठने के योग्य नहीं होंगे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *